आत्मनिर्भर बिहार- सीरीज-3 हर खेत को पानी-हर हाथ को मिलेगा रोजगार- होगा आत्मनिर्भर बिहार -डाॅ॰ प्रेम कुमार

बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता-सह-कृषि मंत्री डॉ० प्रेम कुमार ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव के समय महागठबंधन को रोजगार की याद आयी है। जनता को भरमाकर

पाकिस्तान में महंगाई की मार, गेहूं के दाम सातवें आसमान पर, रूस से करना पड़ रहा इम्पोर्ट
आत्मनिर्भर बिहार- सीरीज-5 किसानों को मिलेगा बेहतर दाम- होगा आत्मनिर्भर बिहार -डाॅ॰ प्रेम कुमार
आत्मनिर्भर बिहार- सीरीज- 4 किसान होंगे खुशहाल-होगा आत्मनिर्भर बिहार – डाॅ॰ प्रेम कुमार

Agriculture minister prem kumar distrubuted radio to farmers in  patna|बिहार: कृषि मंत्री ने किसानों के बीच बांटा रेडियो, दी जाएगी सरकारी  योजनाओं की सूचना | Hindi News, बिहार एवं ...

बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता-सह-कृषि मंत्री डॉ० प्रेम कुमार ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव के समय महागठबंधन को रोजगार की याद आयी है। जनता को भरमाकर वोट हासिल करने के लिए विपक्ष यह झासा देने के लिए कहा है कि उनकी सरकार बनी तो 10 लाख युवाओं को नौकरी देंगे। जनता झांसे देने वाली सरकार नहीं चाहती, बल्कि विकास करने वाली सरकार चाहती है। पहली बात चुनाव के बाद महागठबंधन की सरकार नहीं बनने जा रही है। दूसरी बात विपक्ष को 10 लाख युवाओं को रोजगार देंने की पूरी रूपरेखा सूबे की जनता केे सामने पेष करना चाहिए कि किस तरह से 10 लाख रोजगार देगें। इस तरह के झूठे वादों को जनता ने पहले ही नकार दिया है। चुनाव जीतने के लिए झूठे वादे करने वालों को जनता पहचानती है, जनता इनके झांसे में आने वाली नहीं है। उक्त बातें सूबे के कृषि मंत्री सह भाजपा के वरिष्ठ नेता डाॅ. प्रेम कुमार ने आज यहां एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है।
डाॅ0 प्रेम ने कहा कि बिहार में एन.डी.ए. की सरकार ने अपने शासनकाल में राज्य में रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए कई स्तरों पर कार्य किया है, जिसका परिणाम आनेवाले दिनों में और भी स्पष्ट रुप से दिखाई देगा। बिहार एक कृषि प्रधान राज्य है। इसलिए राज्य की आर्थिक उन्नति एवं रोजगार के साधन उपलब्ध कराने में कृषि क्षेत्र की महत्वपूर्ण भूमिका है। इसलिए हमारी सरकार ने राज्य में कृषि के क्षेत्र में प्रत्येक स्तर पर कार्य किया है। किसानों को फसलों की सिंचाई के साधन उपलब्ध कराने से लेकर कृषि आधारित लघु उद्योगों की स्थापना के लिए भी व्यापक कार्य योजना तैयार की गई है, जिससे कृषि के क्षेत्र में राज्य में बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे।
डाॅ0 कुमार ने कहा कि एन.डी.ए. कहने में नहीं करने में विष्वास करती है। 15 सालों में हमलोगों ने बिखरे हुये बिहार को संवारने का काम किया है। इस विधान सभा चुनाव के बाद हमारी सरकार का गठन होते ही हर खेत को पानी उपलब्ध कराने का अभियान चलाया जायेगा, इसके लिए पूरी तैयारी कर ली गयी है। इससे राज्य में फसल उत्पादन में तेजी से वृद्धि होगी।
उन्होंने कहा कि राज्य में फसल उत्पादन के अतिरिक्त उद्यानिक फसलों की खेती एवं इससे जुड़े उद्योग को भी प्रोत्साहित किया जायेगा। राज्य में भिन्न-भिन्न जिलों में मौसम तथा मिट्टी की अनूकुलता के अनुरूप विशेष फसलों को प्रोत्साहित किया जायेगा। किसी विशेष जिला को एक विशेष फसल के लिए चिह्नित कर उसे प्रोत्साहित करने हेतु किसानों को उस फसल के उत्पादन से लेकर प्रोसेसिंग, पैकेजिंग, ब्रांडिग तथा मार्केटिंग तक के लिए लागत मूल्य का 90 प्रतिशत तक अनुदान की सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी। इस योजना के अंतर्गत राज्य के विभिन्न जिलों को एक फसल विशेष के लिए हब के रूप में विकसित किया जायेगा। इससे फसल उत्पादों के विपणन में आसानी होगी तथा भैल्यू एडिशन होने से उसका उच्चतर मूल्य भी प्राप्त हो सकेगा। इस व्यवस्था से ग्रामीण स्तर पर छोटे-छोटे उद्योग स्थापित होगंे, जिससे लाखों लोगों को रोजगार मिलेगा।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0