बिहार विधानसभा चुनाव: ‘कोई मतदाता छूटे नहीं’ स्लोगन और कोरोना से बचाव का संदेश के साथ लोगो जारी:

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए पटना जिले के लोगो का औपचारिक अनावरण सोमवार को डीएम कुमार रवि ने हिंदी भवन स

Bihar Elections 2020: चुनाव से पहले माहौल बदलना कोई CM नीतीश से सीखे! इन फैसलों का कैसे सामना करेगा तेजस्वी खेमा
सुशांत केस: बिहार में कानून के मुताबिक काम हुआ, हमने संविधान का पालन किया – नीतीश कुमार
US Election 2020 : कमला हेरिस यदि बनती हैं US की उपराष्ट्रपति तो जानें- कैसा रहेगा भारत के प्रति उनका रुख

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए पटना जिले के लोगो का औपचारिक अनावरण सोमवार को डीएम कुमार रवि ने हिंदी भवन सभागार में किया। इस लोगो के माध्यम से कोविड-19 के आवश्यक प्रोटोकॉल का पालन करने के साथ मतदान के लिए सभी वर्गों को प्रेरित करने के उद्देश्य को समाहित किया गया है।

इस लोगो में भारत निर्वाचन आयोग की पंचलाइन थीम कोई मतदाता नहीं छूटे को शीर्ष स्थान दिया गया है। पटना जिला के ऐतिहासिक गोलघर को लोगो में प्रमुख स्थान दिया गया है, जिसमें मास्क का प्रयोग तथा 2 गज की सामाजिक दूरी की अनिवार्यता को प्रमुखता से दर्शाया गया है। सभी मतदाताओं एवं दिव्यांग मतदाताओं से संबंधित सांकेतिक चिह्नों का प्रयोग भी लोगो में मुख्य रूप से किया गया है। कोविड-19 के प्रोटोकॉल के पालन को दर्शाते हुए लोगो को आकर्षक रंगों से सजाकर बनाया गया है।

जिलाधिकारी ने सभी कोषांगों के पदाधिकारी एवं निर्वाची पदाधिकारी तथा मतदाता जागरूकता कार्यक्रम से जुड़े हुए सभी पदाधिकारी को निर्देश दिया कि वे लोगो का प्रयोग सभी बैनर एवं पोस्टर पर करते हुए पटना जिला के मतदान प्रतिशत को अनिवार्य रूप से बढ़ाने का प्रयास करें। अनावरण के बाद जिलाधिकारी ने सभी कोषांग के अधिकारियों के साथ हिंदी भवन सभागार में बैठक की। प्रत्येक कोषांग के संचालन का स्थल तथा कार्य की प्रगति की जानकारी प्राप्त कर आवश्यक निर्देश दिया।

समीक्षा में पाया गया कि कार्मिक कोषांग में चुनाव कार्य में तैनात करने के लिए 46 हजार कर्मियों का डेटाबेस तैयार है। इन कर्मियों की अद्यतन सूची संबंधित विभाग कार्यालय से मांग की गई थी ताकि अपलोडेड डाटा का अद्यतीकरण किया जा सके। किंतु अब तक मात्र 39 हजार डाटा प्राप्त हुए हैं। कई विभागों एवं कार्यालयों से अद्यतन सूची अप्राप्त है। ऐसी स्थिति में जिला अधिकारी के स्तर से संबंधित विभागों व कार्यालयों को स्मारित किया गया है तथा अविलंब सूची उपलब्ध कराने का अनुरोध किया गया है। इस आशय की सूचना मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी बिहार पटना को भी संसूचित किया गया है।

जिन प्रमुख विभागों कार्यालयों से सूची अप्राप्त है वह निम्नलिखित है- बिहार विद्यालय परीक्षा समिति, बिहार इंटर मीडिएट काउंसिल, एनआईटी पटना, आईआईटी बिहटा, ऑडिट ऑफिस पटना, एनटीपीसी बाढ़, विद्युत बोर्ड पटना प्रमुख है । इसके अतिरिक्त करीब 400 कार्यालयों से कर्मियों की अद्यतन सूची अप्राप्त है।

31 हजार से अधिक हैं दिव्यांग मतदाता
पटना जिले में  31 हजार 395 दिव्यांग मतदाता हैं। मोकामा में 1625 बाढ़ में 1882 बख्तियारपुर में 3111 दीघा में 2718 बांकीपुर में 1397 कुम्हार में 1798 पटना साहिब में 1169 फतुहा में 2411 दानापुर में 3203 मनेर में 1384 फुलवारी शरीफ में 2084 मसौढ़ी में 3556 पालीगंज में 2773 विक्रम में 2284 पीडब्ल्यूडी वोटर हैं। जिलाधिकारी ने दिव्यांग कोषांग के प्रभारी पदाधिकारी को दिव्यांग मतदाताओं को मतदान करने हेतु प्रेरित करने का निर्देश दिया।

जागरूक करने के लिए चलेगा अभियान
जिलाधिकारी ने स्वीप कोषांग के नोडल पदाधिकारी को मतदान प्रतिशत बढ़ाने हेतु मतदाता जागरूकता कार्यक्रम सघन रूप से चलाने का निर्देश दिया। इस क्रम में उन्होंने न्यूनतम वोटर टर्नआउट वाले मतदान केंद्रों को चिह्नित करते हुए कम मतदान होने संबंधी कारणों का पता करने तथा मतदान नहीं करने वाले मतदाताओं से वोटिंग हेतु प्रेरित करने का निर्देश दिया। इसके लिए न्यूनतम वोटर टर्नआउट वाले मतदान केंद्रों को चिन्हित कर मतदाता जागरूकता कार्यक्रम चलाने का निर्देश दिया। उन्होंने सभी कोषांग के नोडल पदाधिकारी को अपने अपने कोषांगों से संबंधित बैठक करने तथा कार्ययोजना तैयार करने का निर्देश दिया।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0