बिहार विधानसभा चुनाव: ‘निश्चय संवाद’ से नीतीश कुमार आज करेंगे JDU के चुनाव अभियान का आगाज, निशाने पर होगा विपक्ष

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार आज अपने दल क

बिहार चुनाव की बिसात बिछाने के लिए मिले BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा और CM नीतीश कुमार
कोरोना काल में बदला होगा मतदान का तरीका, बिहार के वोटर ऐसे डालेंगे वोट
बिहार: NDA में बढ़ी टेंशन, LJP ने रखी ये डिमांड, नहीं पूरे होने पर अकेले लड़ेगी चुनाव
jdu president and cm nitish will start bihar assembly election campaign today 7 september with vertu

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार आज अपने दल के चुनाव अभियान का बिगुल फूंकेंगे। वे सुबह 11.30 बजे जदयू मुख्यालय में बने नवनिर्मित ‘कर्पूरी सभागार’ के मंच से ‘निश्चय संवाद’ को संबोधित करेंगे। राज्यभर में बड़े स्क्रीन पर निश्चय संवाद को सामूहिक रूप से लाइव देखने की तैयारी है।

जदयू के अपने वर्चुअल प्लेटफार्म जदयू लाइव डाटकाम के जरिए उनका संबोधन बिहार के तमाम लोगों तक पहुंचेगा। माना जा रहा है कि इस रैली के माध्यम से नीतीश कुमार अपने शासनकाल के कार्यों को जनता के सामने रखेंगे, आगामी योजना बताएंगे, 15 साल बनाम 15 के माध्यम से विपक्ष को निशाने पर रखेंगे, वहीं युवाओं के लिए कुछ बड़ी घोषणा की भी उम्मीद की जा रही है।

विभिन्न सोशल मीडिया और पार्टी के वेबसाइट, मुख्यमंत्री तथा जदयू के फेसबुक पेज और ट्वीटर एकाउंट से नीतीश कुमार के समर्थक, प्रशंसक, जदयू के नेता-कार्यकर्ता और बिहार की जनता सीधे जुड़कर नीतीश कुमार के संबोधन को लाइव सुन सकेंगे।

 

नीतीश कुमार की इस पहली वर्चुअल रैली को लेकर जदयू के नेताओं-कार्यकर्ताओं में जबर्दस्त उत्साह है। सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्मों के अलावा सभी प्रखंडों, पंचायतों, शहरों, हाट-बाजार और चौक-चौराहों पर जदयू नेताओं ने टेंट लगाकर टीवी स्क्रीन, प्रोजेक्टर और एलईडी लगाकर नीतीश कुमार के संबोधन को लाइव देखने की व्यवस्था की है। टेंट भी लगाए गए हैं, जिसमें कुर्सी लगी हैं और चाय-नाश्ते का भी बंदोबस्त नेताओं-कार्यकर्ताओं ने किया है। जदयू मुख्यालय की ओर से रविवार तक ही 26 लाख 45 हजार लोगों को इस वर्चुअल रैली का लिंक भेजा जा चुका है।

1 मार्च, 2020 को पटना के गांधी मैदान में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन के बाद जदयू 7 सितम्बर को वर्चुअल रैली के रूप में कोई बड़ा कार्यक्रम करने जा रहा है। कोरोना काल में होने वाली इस रैली को सफल बनाने की चुनौती को पार करने के लिए पार्टी नेताओं ने बड़ी मशक्कत की है। बूथ से लेकर प्रखंड, पंचायत, जिला और राज्यस्तर के पार्टी पदाधिकारियों के कंधे पर इसकी सफलता का जिम्मा सौंपा गया था। पार्टी मुख्यालय से तैयारियों की रोज समीक्षा की गयी है।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0