महागठबंधन का चुनावी घोषणा पत्र झूठ का पुलिंदा – डाॅ. प्रेम कुमार

पटना, 17 अक्टूबर 2020 कृषि मंत्री सह भाजपा के वरिष्ठ नेता डाॅ. प्रेम कुमार ने कहा है कि महागठबंधन का चुनावी घोषणा पत्र झूठ का पुलिंदा है। झूठे वादे

Live: नीतीश कुमार की ऑनलाइन ‘निश्चय संवाद’ रैली
ओपिनियन पोल: क्या फ्लोटिंग वोट के पेच में फंस गई है बिहार की लड़ाई?
लालटेन की तेल खत्म हो रही है, जो जल्द ही बुझ जायेगी – डाॅ. प्रेम कुमार

बीज की होम डिलीवरी के कदम को केंद्र सरकार ने सराहा – The Bihar Nowपटना, 17 अक्टूबर 2020

कृषि मंत्री सह भाजपा के वरिष्ठ नेता डाॅ. प्रेम कुमार ने कहा है कि महागठबंधन का चुनावी घोषणा पत्र झूठ का पुलिंदा है। झूठे वादे कर जनता के बीच भ्रम पैदा करने का काम कर रहीं है। रोजगार देने के नाम पर 10 लाख युवाओं को झूठ बोलने के अलावा इस में कुछ नहीं है, सिर्फ झूठ ही झूठ बोला गया है। चुनावी घोषणा पत्र में किसी भी क्षेत्र के लिए कोई स्पष्ट दृष्टि नहीं है, सिर्फ झूठ का पुलिंदा बना कर पेष किया गया है। उक्त बातें उन्होंने आज एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है।
डाॅ. कुमार ने कहा कि महागठबंध के 15 सालों के षासनकाल में हत्या, लूट, चोरी, डकैती, बालत्कार, अपहरण उद्योग, फिरौती के लिए अपहरण होता रहा, उस दौर में सिर्फ अपराधियों का आतंक और राज कायम था, जिसे आज भी सूबे की जनता नहीं भूली है। आतंक, डर के भय से बिहार के लोग उस समय पलायन कर रहे थे। उसके पहले सूबे के अंदर कांग्रेस की सरकार थी, इन दोंनो सरकारों ने जनता को अपने झूठे वादों में फंसा कर रखा था, काम नहीं किया था।
उन्होंने कहा कि जब से सूबे के अंदर एनडीए की सरकार बनी है, जमीन पर विकास पूरे बिहार में दिखाई दे रहा है। हर क्षेत्र में विकास हुआ, चाहे वह षिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, सड़क, बिजली, पानी सहित गांव-गांव में विकास से तस्वीर बदल गई है। अब सूबे के लोग विकास चाहते हैं, झूठे घोषणा पत्र को जनता ने खारिज कर एनडीए के विकास के साथ कदम में कदम मिलाकर चल रही है और इस बार पूर्ण बहुमत से एनडीए की सरकार बनने जा रही है।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0