राहुल गांधी का बढ़ती बेरोजगारी को लेकर मोदी सरकार पर निशाना, कहा- अब अर्थव्यवस्था का सच नहीं छुप नहीं सकता

राहुल गांधी ने एक बार फिर केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना सादा है. राहुल ने कहा कि पिछले 4 महीनों में क़रीब 2 करोड़ लोगों ने नौकरियां गंवाईं हैं. फेस

RIL बना दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा ब्रांड, अब Apple के ताज पर भी खतरा
जम्मू-कश्मीरः बिजली-पानी के बिल पर 50% की छूट, LG मनोज सिन्हा ने किया ऐलान
गांवों में कोरोना से हो सकती है अदृश्य तबाही, देर से दिखेगी असल तस्वीर

राहुल गांधी ने एक बार फिर केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना सादा है. राहुल ने कहा कि पिछले 4 महीनों में क़रीब 2 करोड़ लोगों ने नौकरियां गंवाईं हैं. फेसबुक पर झूठी खबरें फैलाने से सत्य देश से नहीं छुप सकता.

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को एक खबर का हवाला देते हुए दावा किया कि पिछले चार महीनों में करीब दो करोड़ लोगों की नौकरियां चली गईं और अब ‘अर्थव्यवस्था के सर्वनाश’ का सत्य देश से नहीं छिप सकता.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘पिछले चार महीनों में क़रीब दो करोड़ लोगों ने नौकरियां गंवाईं हैं. दो करोड़ परिवारों का भविष्य अंधकार में है. फेसबुक पर झूठी खबरें और नफ़रत फैलाने से बेरोज़गारी और अर्थव्यवस्था के सर्वनाश का सत्य देश से नहीं छुप सकता.’’

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इसी विषय पर दावा किया, ‘‘अब सच्चाई जग ज़ाहिर है. केवल अप्रैल-जुलाई 2020 में 1.90 करोड़ नौकरीपेशा लोगों की नौकरी गई. अकेले जुलाई माह में 50 लाख नौकरी गई. खेती और निर्माण क्षेत्र में 41 लाख लोगों की नौकरी गई. बीजेपी ने देश की रोज़ी-रोटी पर ग्रहण लगाया.’’

राहुल गांधी और सुरजेवाला ने जिस खबर का हवाला दिया उसके मुताबिक, कोरोना वायरस महामारी के बीच अप्रैल से अब तक 1.89 करोड़ लोगों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है. ‘सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकॉनामी’ (सीएमआईई) के आंकड़ों में यह बात सामने आई है. इसमें कहा गया है कि पिछले महीने यानी जुलाई में लगभग 50 लाख लोगों ने नौकरी गंवाई है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: