सामने आए कोरोना वायरस के सबसे असामान्य लक्षण, ना करें नजरअंदाज

बढ़ते मामलों के साथ-साथ कोरोना वायरस के नए-नए लक्षण भी सामने आ रहे हैं. कोरोना से संक्रमित होने वाले हर व्यक्ति का अनुभव अलग-अलग है. वायरस के शु

Immunity Food: नवरात्र में जरूर खाएं ये 8 चीजें, तेजी से बढ़ेगी इम्यूनिटी
Coronavirus: इन 6 सतहों से सबसे ज्यादा फैलता है कोरोना वायरस, रहें सावधान
खत्म हुई राहुल की WFH पॉलिटिक्स, लॉकडाउन खुलते ही नापने लगे सड़क..
कोरोना के नए लक्षण

बढ़ते मामलों के साथ-साथ कोरोना वायरस के नए-नए लक्षण भी सामने आ रहे हैं. कोरोना से संक्रमित होने वाले हर व्यक्ति का अनुभव अलग-अलग है. वायरस के शुरुआती दिनों में माना जा रहा था कि ये सांस की बीमारी वालों को ज्यादा शिकार बना रहा है, लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं है. ये शरीर के कई अंगों को निशाना बनाता है.

जागरुक होने की जरूरत

बुखार, कफ या सांस लेने में दिक्कत के अलावा और भी कई लक्षण हैं, जिनके बारे में जागरुक होने की जरूरत है. बिना लक्षण वाले मरीजों को भी इन पर गौर करने की जरूरत है. ब्रिटेन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (National Health Service) द्वारा एक नया दिशा-निर्देश जारी किया गया है. इसमें संक्रमित लोगों के 4 असामान्य लक्षणों के बारे में बताया गया है. आइए जानते हैं इनके बारे में.

क्या हैं ये संकेत?

कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई देने में 2 से 14 दिनों का वक्त लगता है. NHS की नई ए़डवाइजरी के मुताबिक ये असामान्य लक्षण एक दिन तक रह सकते हैं, बार-बार हो सकते हैं या फिर संक्रमण से ठीक होने के बाद भी दिखाई दे सकते हैं. इन लक्षणों को नजरअंदाज बिल्कुल ना करें.

आंखों की समस्या

आंखों की समस्या- ए़डवाइजरी में आंखों में खुजली, लाल होना या सूजन आना जैसे नए लक्षण बताए गए हैं. ये लक्षण बहुत कम देखे जा रहे हैं और लोग इन पर ध्यान नहीं दे रहे हैं. कुछ मामलों में आंखों के आसपास की नसें भी सूज जाती हैं या आंखों में बहुत ज्यादा पानी आ जाता है. हालांकि ये लक्षण बहुत असामान्य हैं लेकिन एक्सपर्ट्स का कहना है कि गंभीर संक्रमण के मामलों में ये लक्षण देखने को मिलते हैं.

बेसुध और दुविधा की स्थिति

बेसुध और दुविधा की स्थिति- COVID-19 का प्रभाव  मनोवैज्ञानिक रूप से भी पड़ रहा है, जिसका सीधा असर दिमाग पर हो रहा है. हालांकि ये लक्षण ठीक हुए मरीजों में ही देखने को मिले हैं. NHS का कहना है कि सिरदर्द और थकान की समस्या के साथ ही बेचैनी और दुविधा जैसे लक्षण महसूस होते हैं. ये लक्षण भी गंभीर रूप से बीमार मरीजों में ही देखे गए हैं.

लगातार खांसी आना

लगातार खांसी आना- हालांकि सूखी खांसी कोरोना वायरस के प्रमुख लक्षणों में से एक है लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि लगातार खांसी आना वायरस की शुरुआत का एक नया संकेत हो सकता है. UK के एक सर्वे में पाया गया है कि कोरोना वायरस के सारे मरीजों ने करीब एक से चार घंटे तक लगातार खांसी आने की शिकायत की थी.

स्किन में बदलाव आना

स्किन में बदलाव आना- कोरोना वायरस के कई मरीजों की त्वचा में सूजन और चकते भी पड़ते हैं. हालांकि नई एडवाइजरी में त्वचा के रंग में बदलाव जैसी बात भी कही गई है. इसमें बताया गया है कि ये लक्षण ज्यादातर युवाओं में देखे गए हैं, जिन्हें पहले से कोई शिकायत नहीं थी. कुछ मामलों में पैरों में घाव जैसे लक्षण भी दिखे हैं.

लक्षणोॆ पर करें गौर

क्या करना चाहिए- आपको इस समय छोटे-छोटे लक्षणों पर भी गौर करना चाहिए. अगर आपको कोई भी असामान्य लक्षण नजर आता है तो डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें. डॉक्टर की सलाह पर टेस्ट कराएं. अगर आपमें कोरोना के शुरुआती लक्षण हैं तो इसका इलाज घर पर क्वारनटीन होकर भी किया जा सकता है. हाथों को लगातार साफ करें और अपनी इम्युनिटी बढ़ाने की कोशिश करें. डॉक्टर की सलाह के बिना कोई दवा ना लें.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0