Amazon पर फर्जी रिव्यू करके कमा रहा था युवक, 4 महीने में बनाए 19 लाख

कुछ चीनी कंपनियां पैसे देकर अपने सामानों का फर्जी रिव्यू Amazon पर करा रही थीं. फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है. एक रिव्यू क

वकील का दावा- सुशांत का गला घोंटने की बात साबित, AIIMS ने कहा- अभी जांच पूरी नहीं
सुशांत सिंह राजपूत केस को CBI को देने की अधिसूचना शाम तक होगी जारी, केंद्र ने मानी बिहार की सिफारिश
बब्बर खालसा संगठन के 2 आतंकवादी दिल्ली में गिरफ्तार, स्पेशल सेल की टीम ने पकड़ा
Amazon

कुछ चीनी कंपनियां पैसे देकर अपने सामानों का फर्जी रिव्यू Amazon पर करा रही थीं. फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है. एक रिव्यू करने वाले व्यक्ति ने तो करीब तीन महीने में ही फर्जी रिव्यू करके कम से कम 19 लाख रुपये कमा लिए.

कुछ चीनी कंपनियां पैसे देकर अपने सामानों का फर्जी रिव्यू Amazon पर करा रही थीं. फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है. एक रिव्यू करने वाले व्यक्ति ने तो करीब तीन महीने में ही फर्जी रिव्यू करके कम से कम 19 लाख रुपये कमा लिए.

Amazon

रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि टॉप रिव्यूअर्स पैसे लेकर Amazon पर 5 स्टार रेटिंग दे रहे थे. पहले वे प्रॉडक्ट खरीदते थे और फिर अमेजन पर 5 स्टार रेटिंग देते थे. बाद में उन्हें कंपनियों की ओर से रिफंड कर दिए जाते थे, कई बार साथ में उन्हें अन्य तोहफे भी मिलते थे.

Amazon

जस्टिन फ्रायर नाम का व्यक्ति Amazon.co.uk पर नंबर-1 रिव्यूअर है. उसने अगस्त में 14 लाख रुपये के सामान का रिव्यू किया. हर 4 घंटे में वह एक नए सामान का 5 स्टार रिव्यू करता था. रिपोर्ट के मुताबिक, जस्टिन बाद में अमेजन से खरीदे गए सामान को eBay पर बेच देता था. जून से अब तक जस्टिन 19 लाख रुपया का सामान बेच चुका है. हालांकि, जस्टिन ने पैसे लेकर रिव्यू करने के आरोप से इनकार किया है.

Amazon

चीनी कंपनियां सोशल मीडिया ग्रुप और मैसेजिंग ऐप पर ऐसे रिव्यूअर्स से संपर्क करती है जो पैसे लेकर फर्जी रिव्यू कर सकें. टेलिग्राम पर ऐसे कुछ ग्रुप पाए गए जो हजारों 5 स्टार रिव्यू कराने का दावा करते हैं.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0