Bihar Assembly Election 2020: बिहार के ‘महासंग्राम’ में शंखनाद करेंगे CM नीतीश, कांग्रेस भी फूंकेगी बिगुल

नीलकमल,पटना बिहार विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर जेडीयू का चुनाव प्रचार अभियान सोमवार को शुरू होगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सोमवार की

दीपांकर भट्टाचार्य: बिहार का वो नेता, जिसने चुनाव से पहले बढ़ा दी है तेजस्वी की टेंशन
Bihar Election Live : तेजस्वी ने बेरोजगारों के लिए खोली वेबसाइट,
बिचौलिए ही कर रहें हैं किसानों के हित का विरोध: प्रेम कुमार
NBT

नीलकमल,पटना
बिहार विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर जेडीयू का चुनाव प्रचार अभियान सोमवार को शुरू होगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सोमवार की सुबह साढ़े ग्यारह बजे वर्चुअल महारैली जिसका नाम ‘निश्चय संवाद’ दिया गया है, को संबोधित करेंगे। जेडीयू की ओर से बताया गया कि सभी प्रखंड एवं विधानसभा क्षेत्र में लोगों को जोड़ने के लिए विशेष तैयारी की गई है। वहीं कांग्रेस बापू की कर्म-भूमि चंपारण से “बिहार क्रांति महासम्मेलन” के जरिए अपने चुनावी अभियान का शंखनाद करने जा रही है। जेडीयू की ओर से यह भी दावा किया गया है कि अब तक 26 लाख से अधिक लोगों को वर्चुअल महारैली का लिंक भेजा चुका है। बताया गया कि निश्चय संवाद का सीधा प्रसारण पार्टी के प्रदेश कार्यालय में स्थित कर्पूरी सभागार से होगा।

मुख्यमंत्री के वर्चुअल महारैली को लेकर बूथ स्तर तक की गई है विशेष तैयारी: जेडीयू
जेडीयू के नेताओं का दावा है कि मुख्यमंत्री का ‘निश्चय संवाद’ अब तक की सबसे बड़ी वर्चुअल महारैली होगी। जेडीयू नेताओं का कहना है कि इस वर्चुअल महारैली से लोगों को जोड़ने के लिए पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने बूथ स्तर तक विशेष अभियान चलाया था। जेडीयू की ओर से बताया गया कि राज्य के 26 लाख 25 हजार से अधिक लोगों को इस महारैली से लाइव जोड़ने के लिए लिंक भेजा गया है। सभी लोग अपने स्मार्टफोन, लैपटॉप, कंप्यूटर आदि से इस लिंक के जरिए जुड़कर मुख्यमंत्री को सीधे सुन और देख सकेंगे। जेडीयू की ओर से यह भी बताया गया कि पार्टी के सांसद, विधायक, जिला अध्यक्ष और संगठन प्रकोष्ठ के पदाधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में प्रोजेक्टर, एलइडी स्क्रीन, टीवी आदि लगाकर ऐसी व्यवस्था करेंगे ताकि आसपास के लोगों को इसे सामूहिक रूप से लाइव देखने सुनने में सुविधा हो सके। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लोगों को दूरी बना कर बिठाया जाएगा। सोमवार को मुख्यमंत्री की वर्चुअल महारैली यानी निश्चय संवाद के साथ ही जेडीयू के चुनावी तैयारी का पहला चरण समाप्त हो जाएगा।

नीतीश के वर्चुअल महारैली के लिए चार महीने से की जा रही थी तैयारी
कोरोना महामारी की वजह से सोशल डिस्टेंसिंग और डिजिटल प्लेटफॉर्म के महत्व को समझते हुए, जेडीयू ने पिछले चार महीने में बूथ स्तर तक के अपने कार्यकर्ताओं को डिजिटली मजबूत करने का काम किया है। मई के महीने में जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कई दिनों तक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए क्वारंटीन सेंटर का निरीक्षण कर, बाहर से लौटे मजदूरों और स्थानीय लोगों के अलावा पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ ही वर्चुअल संवाद किया। वहीं 7 से 12 जून तक जदयू कार्यकर्ताओं के जिलावार वर्चुअल सम्मेलन को जेडीयू के अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ सीएम नीतीश कुमार ने भी संबोधित किया था। जुलाई में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को चार टीम में बांटकर 18 से 31 तारीख तक विधानसभा वार वर्चुअल सम्मेलन का आयोजन किया गया, जिसमें जिला से लेकर बूथ स्तर के नेता, कार्यकर्ताओं के साथ आम लोग भी जुड़े थे। इसके अलावा ‘संडे संवाद’ का भी आयोजन किया था इस दौरान जेडीयू ने हजारों व्हाट्सएप ग्रुप का निर्माण भी किया।नीतीश के इस वर्चुअल महारैली को फेसबुक पर nitishkumarjdu और @jduonline को जरिए और टि्वटर पर @nitishkumar और @jduonline के साथ वेबसाइट https://jdulive.com पर भी देखा जा सकेगा।

कांग्रेस के वर्चुअल रैली के लिए हर विधानसभा क्षेत्र के दस हजार लोगो को लिंक
बिहार विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का ‘बिहार क्रांति महासम्मेलन’ भी सोमवार यानी 7 सितंबर से शुरू हो रहा है। कांग्रेस ने अपने वर्चुअल संवाद अभियान का नाम “बिहार क्रांति महासम्मेलन” दिया है। कांग्रेस के नेता और प्रवक्ता राजेश सिंह राठौर ने बताया कि सोमवार को 11.45 बजे से पश्चिम चम्पारण जिला के वाल्मीकिनगर, रामनगर, नरकटियागंज, बगहा नौतन, चनपटिया, बेतिया और सिकटा विधान सभा क्षेत्र इसके बाद 2 बजे से पूर्वी चम्पारण के गोविन्दगंज, कल्याणपुर, पीपरा, मधुबन, चिरैया विधान सभा क्षेत्र में बिहार क्रान्ति महासम्मेलन की शुरूआत होगी। उन्होंने बताया कि पहले चरण में उत्तर बिहार के 19 जिलों के 84 विधान सभा क्षेत्रों में वर्चुअल संवाद क्रमबद्ध तरीके से लगातार 16 सितम्बर तक चलेगा। उन्होंने बताया कि दूसरे चरण में दक्षिणी बिहार के 19 जिलों के विधान सभा क्षेत्रों का रोड मैप तैयार कर लिया गया है उसकी भी तिथि की घोषणा जल्द कर दी जायेगी।

वर्चुअल संवाद “बिहार क्रांति महासम्मेलन” के लिए बने तीन मंच
प्रदेश प्रवक्ता राठौड़ ने बताया कि बिहार क्रांति महासम्मेलन के लिए तीन मंच बनाए गए हैं। एक मंच दिल्ली में होगा, जहां से बिहार प्रभारी क्तिसिंह गोहिल, सचिव प्रभारी अजय कपूर, बीरेन्द्र सिंह राठौर मौजूद रहेंगे। इसके अलावा स्टार प्रचारक के तौर पर स्क्रीनिंग कमिटी के चेयरमैन अविनाश पाण्डेय, सांसद राजबब्बर, अखिल भारतीय महिला कांग्रेस के अध्यक्ष सुस्मिता देव भी “बिहार क्रांति महासम्मेलन” को सम्बोधित करेंगी। उन्होंने बताया कि प्रमुख मंच बिहार प्रदेश कांग्रेस कार्यालय सदाकत आश्रम में बनाया गया है, जहां से प्रदेश अध्यक्ष डा0 मदन मोहन झा, विधायक दल के नेता सदानन्द सिंह, चुनाव अभियान समिति के चेयरमैन डा अखिलेश प्रसाद सिंह, संगठन प्रभारी ब्रजेश पाण्डेय, महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस, छात्र संगठन एवं कांग्रेस सेवादल के अध्यक्ष सहित प्रदेश के वरिष्ठ नेतागण सम्बोधित करेंगे। कांग्रेस के प्रवक्ता ने बताया कि 8 सितम्बर को 11.45 बजे शिवहर और अपराह्न 2 बजे से सीतामढ़ी जिला के विधान सभा क्षेत्रों में “बिहार क्रांति महासम्मेलन” होगा।

नीतीश सरकार के खिलाफ जनता को गोलबंद करने की कोशिश
कांग्रेस के प्रवक्ता ने बताया कि “बिहार क्रांति महासम्मेलन” के जरिए लोगों को एनडीए सरकार की नाकामी को बताने के साथ नीतीश सरकार के खिलाफ हल्ला बोला जाएगा। बता दें कि 2015 में नीतीश कुमार और लालू यादव के साथ गठबंधन कर कांग्रेस ने 27 सीट पर जीत हासिल की थी। लेकिन इस बार नीतीश कुमार घर वापसी कर चुके है। इधर महागठबंधन के सबसे बड़े नेता और आरजेडी सुप्रीमों लालू प्रसाद यादव भी जेल में बंद है। ऐसे में बीजेपी-जेडीयू गठजोड़ के बाद कांग्रेस 2020 में कितनी सीटे हासिल कर पाएगी यह देखना भी दिलचस्प होगा।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: