Delhi schools: 21 सितंबर से स्कूल खोलने का आदेश दिल्ली सरकार ने किया रद्द, 9 अक्टूबर तक बंदी

Delhi Schools closed कोरोना के कहर को देखते हुए दिल्ली सरकार ने अब 21 सितंबर को स्कूल न खोलने का फैसला लिया है. बता दें कि दिल्ली

PUBG समेत 118 ऐप्स बैन होने पर बौखलाया चीन, भारत से अपनी गलती सुधारने को कहा
Delhi Air Pollution: ‘बहुत खराब’ लेवल पर दिल्ली की हवा, लेकिन AQI लेवल में NCR के 10 शहरों में भी हालात खराब
बाबरी मस्जिद विध्वंस केस पर फैसले से पहले अलर्ट, लखनऊ से अयोध्या तक सुरक्षा चाक चौबंद
Delhi Schools closedDelhi Schools closed
कोरोना के कहर को देखते हुए दिल्ली सरकार ने अब 21 सितंबर को स्कूल न खोलने का फैसला लिया है. बता दें कि दिल्ली सरकार के फैसले के अनुसार  दिल्ली में सभी स्कूल 5 अक्टूबर तक के लिए बंद रहेंगे. शुक्रवार शाम दिल्ली सरकार ने ये आदेश जारी किया.

 दिल्ली सरकार के इस आदेश का यह मतलब है कि 21 सितंबर से जो 9 से 12वी क्लास के छात्रों के लिए आंशिक रूप से स्कूल खोलने की बात थी, वो भी वह भी रद्द कर दी गई है. सरकार ने स्पष्ट किया है कि इस दौरान ऑनलाइन क्लासेज पहले की ही तरह चलती रहेंगी. इस संबंध में दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को सर्कुलर जारी करके जानकारी दी है.

सरकार ने 21 सितंबर से सभी राज्य सरकारों को कोरोना वायरस को लेकर जारी स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइंस को फॉलो करते हुए स्कूल खोलने का आदेश दिया है. लेकिन ज्यादातर राज्य सरकारें अभी इसे लेकर फैसला नहीं ले पा रही हैं. कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, गुजरात सरकार स्‍कूल नहीं खोल रहीं हैं. अब दिल्ली ने भी इस पर अपनी राय रख दी है. फिलहाल उत्तर प्रदेश सरकार ने इसे लेकर कोई स्पष्ट दिशानिर्देश जारी नहीं किए हैं. आंध्र प्रदेश, मध्‍य प्रदेश, हरियाणा जैसे राज्‍यों ने स्‍कूल खोलने की तैयारी कर ली है.

माननी होगी ये गाइडलाइन, जानें सर्कुलर में क्या है
अभी स्कूलों में पुरानी गाइडलाइंस ही जारी रहेगी. लेकिन जरूरत होने पर टीचर्स और स्टाफ को स्कूल बुलाया जा सकता है. सरकारी, ऐडेड, प्राइवेट और एमसीडी समेत दिल्ली के सभी स्कूलों को निर्देश दिए गए हैं कि इस सर्कुलर के बारे में स्टाफ, पैरेंट्स और स्टूडेंट्स को फोन कॉल/एसएमएस या अन्य माध्यमों से जानकारी दें.

सर्वे के बाद लिया फैसला 
बता दें कि स्कूल खोलने को लेकर दिल्‍ली सरकार के शिक्षा निदेशालय की ओर से एक सर्वे कराया गया था. इसमें पेरेंट्स से स्कूल खोलने को लेकर राय मांगी गई थी. इसमें ऑनलाइन फॉर्म के जरिए पैरेंट्स को अपनी राय देनी थी. सर्वे में ज्यादातर पैरेंट्स ने अपने बच्‍चों को स्‍कूल भेजने से इनकार किया है. यही नहीं दिल्ली पेरेंट्स ऐसोसिएशन के सर्वे में भी अभ‍िभावकों ने बच्चों को स्कूल भेजने से मना क‍िया है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0