EXCLUSIVE: डॉक्टरों ने पुलिस को बताया- सुशांत राजपूत को था गहरा डिप्रेशन, दवा कर दी थीं बंद

मुंबई पुलिस की पूछताछ में सुशांत के डॉक्टरों ने दी थीं अहम जानकारियां. मुंबई:  सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के आखिरी

दिल्ली: फैशन डिजाइनर ने अपनी BMW कार से चार लोगों को मारी टक्कर, घटना CCTV में कैद
सुरेश रैना के परिवार पर हुए हमले पर कपिल शर्मा ने जताया दुख, पंजाब पुलिस से कही ये बात:
हाथरस की गैंगरेप पीड़िता हार गई जिंदगी की जंग, सफदरजंग अस्पताल में इलाज के दौरान मौत
EXCLUSIVE: डॉक्टरों ने पुलिस को बताया- सुशांत राजपूत को था गहरा डिप्रेशन, दवा कर दी थीं बंद

मुंबई पुलिस की पूछताछ में सुशांत के डॉक्टरों ने दी थीं अहम जानकारियां.

मुंबई: 

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के आखिरी महीनों में उनका इलाज करने वाले दो मानसिक रोग विशेषज्ञों ने मुंबई पुलिस की पूछताछ में बताया था कि सुशांत गहरे डिप्रेशन (Severe Depression), एंग्जाइटी और एग्ज़िस्टेंशियल क्राइसिस से गुजर रहे थे. उन्हें बाईपोलर डिसऑर्डर भी था. ये सबकुछ मुंबई पुलिस (Mumbai Police) के रिकॉर्ड में दर्ज है. इन दोनों डॉक्टरों ने बताया है कि सुशांत ने अपनी दवाइयां लेनी बंद कर दी थीं, जिससे उनकी हालत और खराब हो गई थी और उनका इलाज करना बहुत मुश्किल हो गया था.

डॉक्टरों के बयान में कहा गया है कि ‘सुशांत को कभी-कभी एक मिनट भी कई दिनों के बराबर लगता था’. सीबीआई की जांच में मुंबई पुलिस के रिकॉर्ड भी शामिल किए गए हैं. इन बयानों से यह भी सामने आया है कि सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty)- जो मामले में सुशांत के परिवार की ओर से लगाए गए आरोपों के चलते कई एजेंसियों की जांच का सामना कर रही हैं- सुशांत की मानसिक सेहत, उनकी दवाइयों और साइकाइट्रिक कंसल्ट वगैरह को लेकर डॉक्टरों के लगातार संपर्क में थीं.

‘रिया ने सुशांत की सेहत को लेकर डॉक्टर को किया था मैसेज’

इनमें से एक डॉक्टर ने बताया कि उनकी सुशांत से 8 जून को बात हुई थी, उसी दिन रिया चक्रवर्ती उनके घर से चली गई थीं और उनकी बहन मीतू सिंह उनके साथ रहने आ गई थीं. उन्होंने बताया कि रिया चक्रवर्ती ने उन्हें वॉट्सऐप पर मैसेज किया था कि सुशांत सिंह ‘फिर से डिप्रेस्ड’ हो गए हैं और ‘क्या उनकी दवा (जो उन्होंने जाहिर तौर पर लेना बंद कर दिया था) फिर से शुरू की जा सकती है?’ डॉक्टर ने बताया कि उन्होंने रिया से कहा था कि उन्होंने वॉट्सऐप पर दवा की प्रिस्क्रिप्शन दी थी लेकिन सुशांत उनसे फोन पर बात करना चाहते थे, फिर उन्होंने (सुशांत ने) रिया चक्रवर्ती के फोन से डॉक्टर से वीडियो कॉल पर बात की थी.

डॉक्टर ने बताया कि ‘मैंने जब उनसे पूछा कि उन्होंने बोलने के बाद भी दवाइयां क्यों नहीं लेनी शुरू की थीं तो वो बस हंस दिए और कुछ नहीं कहा. मैंने उनसे नियमित तौर पर दवाइयां लेने को कहा था….इसलिए मैंने उन्हें समझाया और फिर रिया से पूछा कि वो ध्यान दें कि सुशांत वक्त पर दवा लेते रहें. रिया ने मुझे बताया कि वो उनकी सुनते नहीं हैं तो वो क्या कर सकती हैं.’ डॉक्टर ने बताया कि जब उन्होंने फीस की बाबत पूछा तो रिया चक्रवर्ती ने उन्हें बताया कि वो सुशांत के घर से जा रही हैं और आगे से उनकी बहन उनके बारे में फैसले लेंगी. डॉक्टर ने कहा कि इसके छह दिन बाद उन्हें टीवी से सुशांत की मौत का पता चला.

‘नवंबर, 2019 में डायग्नोज़ हुए थे सुशांत’

डॉक्टर ने मुंबई पुलिस से कहा था, ‘गहरे डिप्रेशन, एंग्जाइटी और एग्ज़िस्टेंशियल क्राइसिस से गुजर रहे किसी भी शख्स के खुदकुशी करने के पीछे कई कारण हो सकते हैं. ये कारण मुख्य रूप से उस शख्स के नकारात्मक विचारों से पैदा होते हैं. ऐसे लोगों में ऐसी सोच बन जाती है कि अतीत में उसे बहुत गहरा नुकसान पहुंचा है और उस कमी को कभी भरा नहीं जा सकता है. मेडिकल साइकाइट्री के हिसाब से, ऐसे में वो अपना इलाज बंद कर देता है, जिससे उसकी हालत और खराब हो जाती है और वो सुसाइ़ड जैसा बड़ा कदम उठा लेता है.’ डॉक्टर ने कहा कि सुशांत नवंबर, 2019 में उनसे पहली बार अस्पताल में मिलने के लिए आए थे, तब उनके डायग्नोज़ में सामने आया था कि उन्हें डिप्रेशन और एंग्जाइटी की समस्या थी.

साइकाइट्रिस्ट ने बताया, ‘उस वक्त उन्होंने बताया था कि वो सो नहीं पा रहे हैं और भूख भी नहीं लगती है. उन्हें अब जिंदगी में कुछ भी अच्छा नहीं लग रहा. वो अब जीना नहीं चाहते हैं और उन्हें हर वक्त डर सा लगा रहता है. इसके हिसाब से मैंने उनकी बीमारी डायग्नोज़ की. सुशांत सिंह राजपूत डिप्रेशन और एंग्जाइटी के शिकार थे. उन्होंने बताया था कि उन्हें पिछले 10 दिनों से ऐसा महसूस हो रहा था.’

डॉक्टर ने कहा, ‘उनकी बातों से साफ था कि चीजें उनके मन के मुताबिक नहीं जा रही थीं और वो इसे लेकर असुरक्षित थे. हालांकि, इसके पीछे उनके दिमाग में पैदा हो रहे नकारात्मक विचार हो सकते थे क्योंकि एग्ज़ामिनेशन में उनकी ऐसी भावनाओं के लिए बाहरी तौर पर ऐसी कोई वजह सामने नहीं आई थी. मैंने उनसे पूछा था कि क्या उनके मन में खुदकुशी करने के विचार आ रहे हैं, तो उन्होंने ना में जवाब दिया था.’ डॉक्टर ने बताया कि जब भी वो सुशांत का चेकअप करते थे, रिया उनके साथ होती थीं और ‘उनके व्यवहार और बातों से ऐसा लगा था कि उन्हें उनकी काफी चिंता है.’

‘रेगुलर इलाज नहीं कराते थे सुशांत, दवाइयां बंद कर देते थे’

एक्टर की दूसरी साइकाइट्रिस्ट ने बताया है कि उन्हें सबसे पहले सुशांत की तरफ से कंसल्टेशन के लिए अक्टूबर, 2019 में मैसेज मिला था. उन्होंने पूछताछ में बताया कि उन्हें उस वक्त पता चला कि सुशांत 20 साल की उम्र से एंग्जाइटी से जूझ रहे थे. उन्होंने पूछताछ में कहा है, ‘उसके बाद 2013-14 में फिर उनमें ये लक्षण उभर गए थे. मुझे पता चला था कि हर बार उनके लक्षण और गंभीर ही होते जाते थे. सुशांत को अपनी बीमारी का पता था, लेकिन वो रेगुलर तौर पर इलाज नहीं कराते थे क्योंकि अच्छा महसूस करने पर वो दवाइयां लेनी बंद कर देते थे. जब वो मेरे पास आए थे, तब तक उनकी बीमारी बहुत ज्यादा बढ़ चुकी थी.’ साइकाइट्रिस्ट ने कहा कि उनके लक्षणों से उन्हें बाईपोलर डिसऑर्डर होने की आशंका थी.

डॉक्टर ने बताया. ‘बाईपोलर डिसऑर्डर होने पर शरीर में केमिकल में असंतुलन दिखता है, लोग बहुत ज्यादा पैसे खर्च करते हैं, चार से पांच दिनों तक सोते नहीं है, खोने का डर होता और हर काम जल्दी-जल्दी करते हैं. जिस एग्जामिनेशन की बात की है, उसमें सुशांत में बहुत जल्दी-जल्दी बोलने और सोचने और बहुत ज्यादा बेचैनी जैसे लक्षण दिखए थे. उन्हें ऐसा भी लगता था कि उनके एक मिनट में कई दिन गुज़र रहे है, इसलिए उनकी बेचैनी और डर और ज्यादा बढ़ गए थे.’

पिछले साल नवंबर में वो रिया चक्रवर्ती के साथ डॉक्टर के पास गए थे. डॉक्टर के मुताबिक, ‘रिया ने जल्दी अपॉइंटमेंट के लिए रिक्वेस्ट की थी और कहा था कि ‘मुझे डर लग रहा है और उसे तुरंत मदद की जरूरत है’. रिया ने कहा था कि ‘वो (सुशांत) बहुत समझदार है और मैं बहुत मामूली, इसलिए मैं उसकी मदद नहीं कर सकती.’ डॉक्टर ने रिया से पूछा था कि क्या सुशांत को खुदकुशी के विचार आ रहे थे तो रिया ने हां में जवाब दिया था.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0