सिवान, जेएनएन। उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले के पयागपुर में ट्रक और जीप की भीषण टक्कर में सिवान के तीन मजदूरों की मौत हो गई। वहीं, जीप में सवार दर्जनभर लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मृतकों की पहचान जामो थानांतर्गत मेघवार निवासी 26 वर्षीय बसंत प्रदान, 25 वर्षीय कंचन राम और जीबी नगर थानांतर्गत हरिहरपुर लालगढ़ निवासी 47 वर्षीय जितेंद्र गिरि के रूप में हुई है। एक अन्य मजदूर की मौत की बात सामने आ रही है, लेकिन जिला प्रशासन ने अब तक पुष्टि नहीं की है। जितेंद्र ठीकेदार थे, जो जीप से 17 मजदूरों को अंबाला लेकर जा रहे थे। शवों को पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया, जबकि घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

 

तेज रफ्तार जीप खड़े ट्रक से टकराई

ठीकेदार जितेंद्र गिरि रविवार की रात 17 मजदूरों को जीप से अंबाला और चंडीगढ़ के निकले थे। अगली सुबह सोमवार को मौत की खबर मिलने से मृतकों के घर में कोहराम मच गया। सुबह से ही उनके घरों पर ग्रामीणों की भीड़ जुटने लगी। जीप में 17 लोगों के होने की बात कही जा रही है। घायल विशाल और अंजन गिरि की हालत गंभीर बताई जा रही है। ठीकेदार जितेंद्र के बेटे पवन कुमार गिरि व अमन कुमार गिरि और बेटी प्रियंका बार-बार पिता को ढूंढ रही हैं। उनकी पत्नी रंजू देवी रोते-रोते बेहोश हो रही हैं।

 

ग्रामीणों में आक्रोश

बड़हरिया प्रखंड के मझौलिया पंचायत के मुखिया मुन्ना राम ने बताया कि घटना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश है। स्थानीय पुलिस-प्रशासन व अंचल का कोई पदाधिकारी मृतकों के आश्रितों को मिलने तक नहीं आया। वहीं, सामाजिक कार्यकर्ता नौशाद अली ने कहा कि किसी भी जनप्रतिनिधि ने मृतकों के आश्रितों की सुधि नहीं ली।

आश्रितों को दी जाएगी हरसंभव सुविधा

बड़हरिया सीओ गौरव प्रकाश ने कहा कि सड़क हादसा दूसरे प्रदेश में हुआ। इस बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है। कार्यालय में आने पर जानकारी मिल सकती है। मुखिया को पूरी बात बताई गई है। मृतकों के आश्रितों को हरसंभव सुविधा मुहैया कराई जाएगी।