लखनऊ, जेएनएन। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण लॉकडाउन के बाद अब अनलॉक में भी योगी आदित्यनाथ सरकार लगातार नये प्रयोग कर रही है। राहतों से भरे अनलॉक-4 के साथ ही प्रदेश सरकार ने व्यापारियों और कारोबारियों को एक और बड़ी राहत दी है। कोरोना संकट काल में व्यापारिक परेशानियां झेल रहे बड़े वर्ग की समस्या को देखते हुए योगी सरकार ने शनिवार और रविवार की दो दिवसीय साप्ताहिक बंदी खत्म कर सिर्फ रविवार को ही प्रदेशभर में साप्ताहिक बंदी का फैसला किया है। अब प्रदेश में बाजार सुबह नौ से रात नौ बजे तक खोलने का फैसला किया गया है। इसके साथ ही सभी जिलों के लिए नए दिशा-निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को अपने सरकारी आवास पर टीम-11 के साथ अनलॉक के साथ ही प्रदेश की कानून-व्यवस्था की समीक्षा की। इस बैठक के बाद सीएम ने अफसरों को हर स्तर पर कोविड-19 के खिलाफ बेहतर से बेहतर काम करें। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अब शुक्रवार रात से सोमवार सुबह तक की बंदी को समाप्त किया जा रहा है। अनलॉक-4 में रविवार को बंदी रहेगी। इसके अलावा हर रोज बाजार सुबह 9 बजे से रात्रि 9 बजे तक खुलेंगे। उत्तर प्रदेश में अब सिर्फ रविवार को साप्ताहिक बंदी होगी। उन्होंने कहा कि सभी शहर तथा गांव में बाजारों की साप्ताहिक बंदी रविवार को निर्धारित की जाए। शनिवार को भी दुकानें खुलेंगी। शनिवार रात 12 बजे से रविवार रात 12 बजे तक पूरी तरह से बंदी रहेगी।

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार को योगी आदित्यनाथ सरकार ने पहले वीकेंड लॉकडाउन लगाने का बड़ा फैसला किया था। इसके तहत शुक्रवार रात से रविवार तक पूरा लॉकडाउन लगाया जाता है लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। अब प्रदेश में हर जगह पर बाजार केवल रविवार को बंद रहेगा। रविवार छोड़ बाकी दिन 12 घंटे यानी सुबह नौ से रात नौ बजे तक दुकानें खुल सकेंगी। योगी आदित्यनाथ सरकार ने अब वीकेंड लॉकडाउन की व्यवस्था खत्म कर दी है। अब शनिवार को भी बाजार खुलेंगे और एक तरह से वीकेंड लॉकडाउन खत्म हो गया। मुख्य सचिव आरके तिवारी ने बताया कि अब प्रदेश भर में छह दिन बाजार और प्रतिष्ठान खुलेंगे। दुकानें आदि खुलने के समय प्रतिदिन सुबह नौ से रात नौ बजे तक होगा। वहीं, रविवार को पूर्ण साप्ताहिक बंदी रहेगी।

रोज डेढ़ लाख हों टेस्ट

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अब प्रतिदिन एक लाख 49 हजार कोविड टेस्ट होने पर संतोष जाहिर किया है। इसके साथ ही अब लैब बढऩे पर टेस्ट को भी प्रतिदिन एक लाख 50 हजार करने का निर्देश दिया है।

लखनऊ व कानपुर को लेकर गंभीर हों अफसर

राजधानी लखनऊ के साथ कानपुर में कोरोना वायरस के बढ़ते एक्टिव केस को लेकर उन्होंने दोनों जगह पर अफसरों से माइक्रोएनालिसिस करते हुए कार्य योजना बनाकर शीघ्र लागू करने का निर्देश दिया। उन्होंने निर्देश दिया कि लखनऊ में तो विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम गठित करें। इसमें केजीएमयू के साथ एसजीपीजीआइ की मदद भी ली सकती है। इस दौरान विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम डिजिटल प्लेटफॉर्म पर स्वास्थ्य संबंधी परामर्श प्रदान करें। इसके साथ ही प्रदेश में अब कांटेक्ट ट्रेसिंग, सर्विलांस और डोर टू डोर सर्वे का कार्य तेजी से कराएं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बैठक में कानून-व्यवस्था को मजबूती देने के साथ ही विकास योजनाओं को गति प्रदान करने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान कृषि उत्पादन आयुक्त, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त, अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव तथा विभागाध्यक्ष अपने अधीनस्थ कार्यालयों का निरीक्षण करें। सभी मंडलायुक्त अपने मंडल में 50 करोड़ से अधिक राशि के विकास कार्यों की समीक्षा करें। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बाढ़ प्रभावित जिलों में फसलों को हुए नुकसान का सर्वे कराकर शीघ्र वहां पर मुआवजा वितरित करें। सीएम योगी आदित्यनाथ जल्दी ही उद्योग बंधु की वर्चुअल बैठक में उद्यमियों से संवाद करेंगे। इसके साथ ही वह जीएसटी के तहत राजस्व संग्रह तथा स्मार्ट सिटी मिशन एवं अमृत योजना की समीक्षा करेंगे।
योगी खुद करेंगे जीएसटी, स्मार्ट सिटी की समीक्षा

योगी ने सभी आर्थिक गतिविधियों में तेजी के निर्देश देते हुए कहा कि जीएसटी के तहत राजस्व संग्रह, स्मार्ट सिटी मिशन और अमृत योजना के काम तेज करें। वे इन योजनाओं की प्रगति की खुद समीक्षा करेंगे।

यह भी दिए निर्देश

  • कृषि उत्पादन आयुक्त, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त, अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव और विभागाध्यक्ष अपने अधीनस्थ कार्यालयों का निरीक्षण करें।
  • सभी मंडलायुक्त अपने मंडल के जिलों में 50 करोड़ रुपये से अधिक राशि के विकास कार्यों की समीक्षा करें। मुख्य विकास अधिकारी उपस्थित रहें। जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित करें।
  • उद्योग बंधु की वर्चुअल बैठकें कर उद्यमियों की समस्याओं का समाधान करें।