अजीम प्रेमजी सबसे दानवीर भारतीय, जानें-मुकेश अंबानी और अन्य कारोबारियों ने कितना ​दान किया?

आईटी की दिग्गज कंपनी विप्रो के फाउंडर अजीम प्रेमजी भारत के सबसे बड़े दानवीर हैं. उन्होंने पिछले वित्त वर्ष यानी 2019-20 में करीब 7,904 करोड़ रुप

शेयर बाजार में बिकवाली बढ़ी, सेंसेक्स 300 अंक टूटा, निफ्टी भी धड़ाम
इस IPO में पैसे लगाने की होड़, पहले दिन ही 3.7 गुना सब्सक्राइब
सीमेंट उत्पादन क्षमता बढ़ाने पर अल्ट्राटेक करेगी 5,477 करोड़ रुपये का निवेश
अजीम प्रेमजी भारत के सबसे बड़े दानवीर

आईटी की दिग्गज कंपनी विप्रो के फाउंडर अजीम प्रेमजी भारत के सबसे बड़े दानवीर हैं. उन्होंने पिछले वित्त वर्ष यानी 2019-20 में करीब 7,904 करोड़ रुपये तक दान किये हैं. हारुन इंडिया द्वारा जारी परोपकारियों की सूची से यह बात सामने आयी है.

हर दिन करीब 22 करोड़ रुपये का दान

हर दिन 22 करोड़ का दान 

इस तरह अजीम प्रेमजी ने हर दिन करीब 22 करोड़ रुपये का दान किया है. इसके पिछले वित्त वर्ष में उन्होंने सिर्फ 426 करोड़ रुपये का दान किया था. इस वित्त वर्ष में भी 1 अप्रैल को उनके ग्रुप ने कोरोना से लड़ाई के लिए 1125 करोड़ रुपये का दान करने का ऐलान किया है.

शिव नाडर सूची में दूसरे स्थान पर

EdelGive Hurun इंडिया फिलैंथ्रोपी लिस्ट 2020 के अनुसार, एचसीएल टेक्नोलॉजीज के शिव नाडर इस सूची में दूसरे स्थान पर हैं. इसके पिछले वित्त वर्ष में वह इस सूची में पहले स्थान पर थे. नाडर ने शिक्षा और स्कॉलरशिप के क्षेत्र में बेहतरीन काम करते हुए करीब 30 हजार स्टूडेंट्स को फायदा पहुंचाया है.

 मुकेश अंबानी इस सूची में तीसरे स्थान पर

मुकेश अंबानी तीसरे स्थान पर

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी इस सूची में तीसरे स्थान पर हैं. मुकेश अंबानी और उनके परिवार ने 458 करोड़ रुपये का दान ​वित्त वर्ष 2019-20 में किया है. इस साल 30 मार्च को रिलायंस ने कोरोना से लड़ाई के लिए पीएम केयर्स फंड में 500 करोड़ रुपये देने का ऐलान किया था, लेकिन इसका क्रियान्वयन इस वित्त वर्ष में हुआ होगा, इसलिए इसको रिलायंस की पिछले कारोबारी साल की दानसूची में नहीं जोड़ा गया है.

कुमार मंगलम बिड़ला चौथे स्थान पर

इस सूची में ​आदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला चौथे स्थान पर हैं, जिन्होंने एक साल में कुल 276 करोड़ रुपये परोपकार के काम में लगाये हैं. बिड़ला समूह का आदित्य बिड़ला फाउंडेशन शिक्षा, स्वास्थ्य और सोलर एनर्जी के क्षेत्र में उल्लेखनीय काम कर रहा है.

अनिल अग्रवाल पांचवें स्थान पर

पांचवें स्थान पर हैं वेदांता रिसोर्सेज के चेयरमैन अनिल अग्रवाल हैं जिन्होंने कुल 215 करोड़ रुपये का दान किया है. अनिल अग्रवाल के समूह का वेदांता फाउंडेशन  शिक्षा, सामुदायिक विकास, महिला सशक्तीकरण की दिशा में काम कर रहा है.

अजय पीरामल छठे स्थान पर

पीरामल समूह के अजय पीरामल और उनका परिवार इस सूची में छठे स्थान पर है. अजय पीरामल परिवार ने 196 करोड़ रुपये डोनेट किये हैं. इन्फोसिस के को-फाउंडर और चेयरमैन नंदन नीलेकणि कुल 159 करोड़ रुपये के दान के साथ इस सूची में सातवें स्थान पर हैं.

गौतम अडानी ने किया कितना दान? 

हारुन की परोपकारियों की सूची में हिंदुजा ब्रदर्स आठवें स्थान पर, जबकि गौतम अडानी एवं उनका ​परिवार नौवें स्थान पर है. हिंदुजा ब्रदर्स ने एक साल में कुल 133 करोड़ रुपये का ​दान किया है, जबकि गौतम अडानी ने 88 करोड़ रुपये का.

दसवें स्थान पर हैं बजाज समूह के राहुल बजाज

इस सूची में दसवें स्थान पर हैं बजाज समूह के राहुल बजाज और उनका परिवार. उन्होंने एक साल में कुल 74 करोड़ रुपये का दान किया है. बजाज परिवार का जमनालाल बजाज फाउंडेशन हेल्थकेयर, शिक्षा, ग्रामीण विकास जैसे बहुत से क्षेत्रों में बदलाव के लिए काम करता है.

भारतीय परोपकारियों के लिए रोल मॉडल

हारुन इंडिया के एमडी और चीफ रिसर्चर अनस रहमान जुनैद कहते हैं, ‘अजीमप्रेमजी भारतीय परोपकारियों के लिए रोल मॉडल की तरह हैं और वह उद्यमियों को लगातार इस बात के लिए प्रेरित कर रहे हैं कि कुछ दान किया जाए.’

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0