कंगना का जया पर वार- मेरी जगह श्वेता होतीं, सुशांत की जगह अभिषेक होते तब भी यही कहतीं क्या?

जया बच्चन और कंगना रनौतकंगना रनौत लगातार सुर्खियों में बनी हुई हैं. वो सोशल मीडिया पर बेबाकी से अपनी राय रख रही हैं. अब उन्होंने ए

राजस्थान: करौली में जिंदा जलाए गए पुजारी के दाह संस्कार से इनकार, 50 लाख मुआवजा-नौकरी की मांग
बिहार चुनावः BJP पर कांग्रेस का हमला, कहा- सुशांत सिंह नहीं, विकास होगा चुनावी मुद्दा
IPL: RCB में स्टार खिलाड़ियों की भरमार, कोहली के सामने ये मुश्किल चुनौती
जया बच्चन और कंगना रनौतजया बच्चन और कंगना रनौत

कंगना रनौत लगातार सुर्खियों में बनी हुई हैं. वो सोशल मीडिया पर बेबाकी से अपनी राय रख रही हैं. अब उन्होंने एक ट्वीट किया है. इस ट्वीट के चलते वो फिर चर्चा में आ गई हैं.

कंगना रनौत ने ट्वीट कर कहा- जया जी, आप तब भी वही बात कहेंगी, अगर मेरी जगह आपकी बेटी श्वेता को टीनएज में पीटा जाता, ड्रग दिया जाता और छेड़छाड़ की जाती. क्या आप तब भी ये ही कहती अगर अभिषेक लगातार बुलिंग और उत्पीड़न की शिकायत करता और एक दिन फांसी पर लटका मिले? हमारे लिए भी करुणा से हाथ जोड़कर दिखाएं.

दरअसल, समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन ने राज्यसभा में कहा है कि ड्रग्स से बॉलीवुड को बदनाम करने की साजिश की जा रही है. जिन लोगों ने फिल्म इंडस्ट्री के सहारे ही नाम कमाया उन्होंने इसे गटर कहा. उनके बयान पर ही कंगना ने रिएक्ट किया है.

क्या कहा जया ने?

जया ने कहा- ‘ये इंडस्ट्री हमेशा सरकार को मदद देने के लिए आगे आती रही है. सरकार जो भी अच्छा काम करती है हम उसका समर्थन करते हैं. जब कोई मुश्किल आती है तो बॉलीवुड के ही लोग पैसा देते हैं. एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री हर रोज 5 लाख लोगों को सीधा रोजगार देती है. देश की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है और चीजों से ध्यान हटाने के लिए हमारा इस्तेमाल किया जा रहा है. सोशल मीडिया पर हमपर निशाना साधा जा रहा है. हमें सरकार से भी समर्थन नहीं मिल रहा है. जिन लोगों ने फिल्म इंडस्ट्री के सहारे ही नाम कमाया उन्होंने इसे गटर कहा. मैं इसका समर्थन नहीं करती हूं.’

‘इसके अलावा उन्होंने कहा- इस इंड्रस्टी में कुछ ऐसे लोग भी हैं जो सबसे ज्यादा टैक्स देते हैं, लेकिन उन्हें भी परेशान किया जा रहा है. फिल्म इंडस्ट्री को लेकर कई वादे किए गए, लेकिन वो कभी पूरे नहीं हुए. सरकार को एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के समर्थन में आना चाहिए. मुझे लगता है सरकार को एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री की मदद करनी चाहिए. कुछ खराब लोगों की वजह से आप पूरी इंडस्ट्री की छवि को खराब नहीं कर सकते.’

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0