पटना: अंकल…जब हत्यारा पकड़ा जाएगा तो गोली मेरी मम्मी मारेगी, बोली रूपेश की बेटी

बिहार के पटना में इंडिगो एयरपोर्ट के मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या के बाद उनके यहां राजनीतिक हस्तियों का आना जाना लगा हुआ है. पूर्व उप मुख्

रिया के मोबाइल ने ही खोली झूठ की पोल, ड्रग्स लेने के अलावा खरीदने-बेचने में भी थीं शामिल
खत्म हुई राहुल की WFH पॉलिटिक्स, लॉकडाउन खुलते ही नापने लगे सड़क..
हाथरस पहुंचे संजय सिंह पर फेंकी गई स्याही, परिवार से मिलने के बाद यूपी सरकार को घेरा

पटना में बदमाशों ने रूपेश सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी. (फाइल फोटो)

बिहार के पटना में इंडिगो एयरपोर्ट के मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या के बाद उनके यहां राजनीतिक हस्तियों का आना जाना लगा हुआ है. पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी रूपेश सिंह के घर पहुंचे तो रूपेश की बेटी ने कुछ ऐसा कहा कि हर किसी की आंखें भर आईं.

रूपेश की बेटी ने कहा, ”अंकल …जब वो पकड़ा जाएगा तो पहली गोली मेरी मम्मा मारेगी. मेरे पापा को इंसाफ़ दिला दीजिए. मैं रो नहीं पा रही क्योंकि मैं रोऊंगी तो मम्मी को अंदर से दर्द होगा.” रूपेश सिंह की मासूम बच्ची के मुंह से ये शब्द सुनते ही बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने बच्ची को गले से लगा लिया और वहां खड़े हर शख़्स की आंखें भीग गईं.

पटना में मारे गए इंडिगो के स्टेशन हेड रूपेश सिंह के पैतृक गांव संवरी में गुरुवार को बिहार सरकार के पूर्व उप मुख्यमंत्री व राज्यसभा सांसद सुशील मोदी परिजनों से मिलने पहुंचे थे. सुशील मोदी के पहुंचते ही रूपेश की मां दहाड़ मारकर गिर पड़ी. सुशील मोदी ने उनको उठाकर सांत्वना दी. रूपेश की बहन, उनके बड़े भाई, उनके वयोवृद्ध पिता भी दहाड़ मारकर रो रहे थे. सुशील मोदी ने सबको सांत्वना दी.

इस दौरान जब रूपेश के बेटा और बेटी सुशील मोदी के पास आए तो मासूम बच्ची ने हत्यारों को पकड़े जाने पर पुलिस नहीं बल्कि अपनी मम्मी द्वारा गोली मारने की बात कही. बच्ची ने कहा कि वो रोती लेकिन रो नहीं पा रही क्योंकि वो रोएगी तो मम्मा को अंदर से दर्द होगा. मुलाकात के दौरान रूपेश सिंह की पत्नी के आंसू रुकने का नाम नहीं ले रहे थे. वह रो-रोकर अपने लिए न्याय की मांग कर रही थी, साथ ही अपने बच्चों के भविष्य और पढ़ाई-लिखाई को लेकर सुशील मोदी से गुहार की.

सुशील मोदी से जब इस बाबत सवाल किया गया तो उन्होंने जल्द हत्यारों के पकड़े जाने का दावा किया साथ ही बच्ची की मासूम अपील पर कहा कि लोग भावावेश में हैं, ग़ुस्से में हैं. अपराधियों को क़ानून के मुताबिक़ ही सजा दी जाएगी.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0