बम धमाके में 200 लोगों की ली जान, अब जेल से छूट रहा इस देश का सबसे कुख्यात आतंकी

इंडोनेशिया के बाली में बड़े बम धमाके के मास्टरमाइंड को अब जेल से रिहा किया जा रहा है. अबु बकर बशीर नाम के शख्स ने 2002 के बाली धमाके की योजना

बुलंदशहर: जहरीली शराब पीने से 5 की मौत, 15 लोग अस्पताल में भर्ती, दोषियों पर लगेगा NSA
अहमदाबाद: डिप्रेशन के आगे हार गया मशहूर मैथ्स टीचर, 14वीं मंजिल से कूदकर दी जान
अब कंगना की मां ने शिवसेना पर बोला हमला- ‘इनके घर में बेटियां नहीं हैं क्या’
 Abu Bakar Bashir

इंडोनेशिया के बाली में बड़े बम धमाके के मास्टरमाइंड को अब जेल से रिहा किया जा रहा है. अबु बकर बशीर नाम के शख्स ने 2002 के बाली धमाके की योजना तैयार की थी जिसमें 200 से अधिक लोग मारे गए थे. अब इंडोनेशिया की सरकार का कहना है कि चूंकि उसकी सजा पूरी हो गई है, इसलिए उसे छोड़ दिया जाएगा.

 Abu Bakar Bashir

82 साल के अबु बकर बशीर को इंडोनेशिया के सबसे अधिक कुख्यात चरमपंथियों में गिना जाता है. लेकिन, कुछ लोग बशीर को जेमाह इस्लामिया नेटवर्क के आध्यात्मिक नेता के तौर पर भी जानते हैं. जेमाह इस्लामिया नेटवर्क का कनेक्शन अल कायदा से भी जोड़ा जाता रहा है.

 Abu Bakar Bashir

इंडोनेशिया की सरकार ने कहा है कि शुक्रवार को अबु बकर बशीर को जेल से छोड़ दिया जाएगा. जेमाह इस्लामिया नेटवर्क पर आरोप है कि उसने इंडोनेशिया में कई बड़े धमाके किए और उसके लोगों को अफगानिस्तान, पाकिस्तान और फिलिपीन्स में ट्रेनिंग मिली थी.

 Abu Bakar Bashir

2002 में बाली में धमाके करने और एक साल बाद जकार्ता के जेडब्ल्यू मैरिअट होटल पर हमला करने के आरोप जेमाह इस्लामिया पर लगे थे. सुरक्षा विश्लेषकों का कहना है कि इंडोनेशिया के जिहादी आंदोलन में अबु बकर बशीर की काफी बड़ी छवि है और यह असंभव नहीं है कि उसके नाम का फिर से इस्तेमाल नहीं किया जाएगा.

 Abu Bakar Bashir

हालांकि, बम धमाके को लेकर अपने ऊपर लगे आरोपों को अबु बकर बशीर खारिज करते आए हैं. इससे पहले राष्ट्रपति जोको विडोडो ने चुनाव से पहले 2019 में भी बशीर को जेल से रिहा करने पर विचार किया था. हालांकि, बाद में इस योजना को बदल दिया गया.

(सभी फोटोज- AFP)

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0