बिहार विधानसभा चुनावः 28 अक्टूबर, 3-7 नवंबर को वोटिंग, 10 को आएंगे नतीजे

चुनाव आयोग ने किया बिहार चुनाव तारीखों का ऐलान बिहार में तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे पहले चरण का मतदान – 28 अक्टूबर दूसरे चरण का म

बिहार: पूर्णिया में वोटिंग के बीच RJD नेता के भाई की हत्या, बदमाशों ने बरसाईं ताबड़तोड़ गोलियां
Bihar Assembly Elections Seat wise Result LIVE: जानें किस सीट पर कौन चल रहा है आगे
बिहार चुनाव: किसका होगा तीसरा चरण? मुस्लिम, यादव और ब्राह्मण वोटबैंक बनाएंगे-बिगाड़ेंगे खेल!

चुनाव आयोग ने किया बिहार चुनाव तारीखों का ऐलान

चुनाव आयोग ने किया बिहार चुनाव तारीखों का ऐलान

बिहार में तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे

पहले चरण का मतदान – 28 अक्टूबर

दूसरे चरण का मतदान – 3 नवंबर

तीसरे चरण का मतदान – 7 नवंबर

चुनाव के नतीजे – 10 नवंबर

तीन चरणों में मतदान, ऐसे होगा मतदान

बिहार में तीन चरणों में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होंगे.
पहले चरण में 71 सीटों पर चुनाव, 31 हजार पोलिंग स्टेशन
दूसरे चरण में 94 सीटों पर चुनाव, 42 हजार पोलिंग स्टेशन
तीसरे चरण में 78 सीटों पर चुनाव, 33.5 हजार पोलिंग स्टेशन

कोरोना पीड़ित डाल सकेंगे वोट

मतदान के अंतिम समय में कोरोना पीड़ित अपना वोट डाल सकेंगे, जिनके लिए अलग व्यवस्था होगी. प्रचार मूल रूप से वर्चुअल ही होगा, लेकिन डीएम छोटी रैली की जगह और वक्त तय करेंगे. हर पोलिंग बूथ पर साबुन, सैनिटाइजर समेत अन्य चीजों की व्यवस्था की जाएगी.

एक घंटा अधिक होगी वोटिंग

इस बार वोट डालने के लिए एक घंटा अधिक वक्त रखा गया है, सुबह सात से शाम 6 बजे तक मतदान होगा. लेकिन नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में ऐसा नहीं होगा.  डूर टू डूर कैंपेन में सिर्फ पांच लोग ही जा सकेंगे. इस बार नामांकन और हलफनामा ऑनलाइन भी भरा जाएगा, डिपोजिट को भी ऑनलाइन सबमिट किया जा सकेगा. नामांकन के वक्त उम्मीदवार के साथ सिर्फ दो लोग मौजूद रहेंगे. प्रचार के दौरान किसी से हाथ मिलाने की इजाजत नहीं होगी.

बिहार चुनाव: मास्क, सैनिटाइजर, पीपीई किट का होगा इस्तेमाल

बिहार में कुल 243 सीटों पर चुनाव होगा, राज्य में 29 नवंबर तक विधानसभा का कार्यकाल है. इस बार पोलिंग स्टेशन की संख्या और मैनपावर को बढ़ाया गया है. बिहार में 2020 के चुनाव में सात करोड़ से अधिक वोटर मतदान करेंगे. इस बार एक बूथ पर सिर्फ एक हजार ही मतदाता होंगे.

इस बार चुनाव में 6 लाख पीपीई किट राज्य चुनाव आयोग को दी जाएंगी, 46 लाख मास्क का इस्तेमाल भी होगा. सात लाख हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल किया जाएगा, साथ ही 6 लाख फेस शील्ड को उपयोग में लाया जाएगा. 18 लाख से अधिक प्रवासी मजदूर हैं, इनमें से 16 लाख वोट डाल सकते हैं. 80 साल की उम्र तक के लोग पोस्टल बैलेट से वोट डाल पाएंगे.

चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस शुरू हो गई है और अब चुनाव तारीखों का ऐलान हो रहा है. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि कोरोना संकट की वजह से दुनिया के 70 देशों में चुनावों को टाल दिया गया. कोरोना संकट के बीच बिहार और उपचुनावों को लेकर लगातार मंथन किया गया. बिहार चुनाव देश के सबसे बड़े राज्यों में है और ये चुनाव कोरोना काल का सबसे बड़ा चुनाव है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0