मजदूरों की मौत पर राहुल बोले- उनका मरना देखा जमाने ने, एक मोदी सरकार है जिसे खबर ना हुई

राहुल गांधी ने सरकार पर साधा निशानासंसद के मॉनसून सत्र के पहले दिन केंद्र सरकार द्वारा दिया गया एक जवाब सुर्खियों में है. लॉकडाउन मे

UNLOCK 4: यूपी ने जारी की गाइडलाइंस, जानिए क्या रहेगा खुला और कहां रहेगी पाबंदी
भारत के इन 5 राज्यों में कोरोना वायरस का सबसे बड़ा खतरा, स्वास्थ्य मंत्रालय ने किया आगाह
लक्ष्मी बॉम्ब का टाइटल बदलने की मांग, हिंदू सेना का लव जेहाद प्रमोट करने का आरोप
राहुल गांधी ने सरकार पर साधा निशानाराहुल गांधी ने सरकार पर साधा निशाना

संसद के मॉनसून सत्र के पहले दिन केंद्र सरकार द्वारा दिया गया एक जवाब सुर्खियों में है. लॉकडाउन में कितने मजदूरों की जान गई, इस सवाल पर सरकार का कहना है कि उनके पास आंकड़ा नहीं है. अब इसी मसले पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार को घेरा है. राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार नहीं जानती कि लॉकडाउन में कितने प्रवासी मज़दूर मरे और कितनी नौकरियां गईं.

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में शायरी का सहारा लिया और सरकार को घेरा. कांग्रेस नेता ने लिखा, ‘तुमने ना गिना तो क्या मौत ना हुई? हां मगर दुख है सरकार पे असर ना हुई, उनका मरना देखा ज़माने ने, एक मोदी सरकार है जिसे ख़बर ना हुई’.

आपको बता दें कि कोरोना वायरस संकट के बाद जब देश में लॉकडाउन लगा था, तो प्रवासी मजदूरों पर काफी असर हुआ था. लाखों की संख्या में प्रवासी मजदूर सड़कों पर थे, इस दौरान कई की मौत की खबर भी सामने आई थी.

इसी मसले पर सोमवार को संसद में सवाल पूछा गया था कि लॉकडाउन के दौरान हजारों मजदूरों की मौत हुई है, क्या सरकार के पास कोई आधिकारिक आंकड़ा है. इसपर सरकार की ओर से जवाब दिया गया कि उनके पास ऐसा कोई आंकड़ा नहीं है. सरकार की ओर से ये भी जवाब दिया गया कि लॉकडाउन में करीब 80 करोड़ लोगों को अतिरिक्त राशन दिया गया है, ये प्रक्रिया नवंबर तक जारी रहेगी.

आपको बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी इन दिनों भारत से बाहर हैं. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी अपना सालाना मेडिकल चेकअप करवाने के लिए विदेश में हैं, जहां राहुल गांधी उनके साथ हैं. हालांकि, राहुल सोशल मीडिया के जरिए लगातार सरकार को घेर रहे हैं.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0