41 साल बाद टीम इंडिया ने टेस्ट में खेली सबसे लंबी चौथी पारी, ऑस्ट्रेलिया का सपना तोड़ा

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी टेस्ट पांचवें और आखिरी दिन ड्रॉ हो गया. टीम इंडिया ने सिडनी टेस्ट की चौथी पारी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 131 ओवर खेल

IPL: धोनी जैसा हेलिकॉप्टर शॉट खेलने चले थे राशिद खान, हुए Hit wicket
IPL: अंपायर वाइड देने ही वाले थे कि धोनी को आया गुस्सा… फिर क्या हुआ?
सुरेश रैना के परिवार पर हुए हमले पर कपिल शर्मा ने जताया दुख, पंजाब पुलिस से कही ये बात:

India vs Australia

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी टेस्ट पांचवें और आखिरी दिन ड्रॉ हो गया. टीम इंडिया ने सिडनी टेस्ट की चौथी पारी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 131 ओवर खेले, जो टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में 80 साल बाद खेले गई सबसे लंबी चौथी पारी है. इस तरह 41 साल बाद टेस्ट क्रिकेट में ये बड़ा कारनामा हुआ है. ऑस्ट्रेलिया के 407 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया को रोहित शर्मा (52) ने बेहतरीन शुरुआत दी और इसके बाद ऋषभ पंत और चेतेश्वर पुजारा ने भारत की जीत की उम्मीदें जगा दी.

पुजारा और ऋषभ पंत ने मिलकर 148 रनों की पार्टनरशिप की थी, लेकिन ऋषभ पंत महज तीन रन से अपने तीसरे टेस्ट शतक से चूक गए, जबकि पुजारा 77 रन बनाकर हेजलवुड की गेंद पर बोल्ड हो गए. इसके बाद रविचंद्रन अश्विन और हनुमा विहारी ने मिलकर मैच ड्रॉ करा दिया. भारत ने दूसरी पारी में 5 विकेट पर 334 रन बनाकर मैच ड्रॉ कर लिया.

टीम इंडिया सिडनी टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऐतिहासिक जीत दर्ज करने से चूक गई. अगर टीम इंडिया इस मैच में जीत दर्ज कर लेती तो वह अपने टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में चौथी पारी में सबसे बड़े 407 रनों के लक्ष्य को हासिल करने का रिकॉर्ड बना लेती.

इससे पहले 12 अप्रैल 1976 को चौथी पारी में सबसे बड़े लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा करने का रिकॉर्ड भारत के नाम दर्ज हो गया था, जो 27 साल तक बरकरार रहा. भारत ने पोर्ट ऑफ स्पेन टेस्ट में 403 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 406/4 रन बनाकर इतिहास रच दिया था.

चौथी पारी में सबसे बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत

1. वेस्टइंडीज विरुद्ध ऑस्ट्रेलिया, 418/7 रन, टारगेट 418, सेंट जोन्स 2003

2. साउथ अफ्रीका विरुद्ध ऑस्ट्रेलिया, 414/4 रन, टारगेट 414, पर्थ 2008

3. भारत विरुद्ध वेस्टइंडीज, 406/4 रन, टारगेट 403, पोर्ट ऑफ स्पेन, 1976

सिडनी में भारतीय टीम के रिकॉर्ड की बात करें तो वह अच्छा नहीं रहा है. भारत अब तक खेले गए 13 टेस्ट मैचों में से सिर्फ 1 ही मुकाबला जीत पाया है, जबकि 5 टेस्ट मैचों में कंगारुओं ने टीम इंडिया को मात दी है. इसके अलावा 7 मैच ड्रॉ पर खत्म हुए हैं.

आखिरी बार भारत ने विराट कोहली की कप्तानी में यहां 3-7 जनवरी 2019 में टेस्ट मैच ड्रॉ कराया था. टेस्ट सीरीज अभी भी 1-1 से बराबर है. ऐसे में भारत अगर ब्रिस्बेन में चौथा टेस्ट जीत लेता है, तो वह ऑस्ट्रेलिया की धरती पर दूसरी बार टेस्ट सीरीज पर कब्जा जमा लेगा. आखिरी बार 2018-19 के दौरे पर भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज 2-1 से जीती थी.

सिडनी में टीम इंडिया का रिकॉर्ड

1. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 12-18 दिसंबर 1947 – सिडनी – मैच ड्रॉ

2. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 26-31 जनवरी 1968 – सिडनी – ऑस्ट्रेलिया 144 रनों से जीता

3. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 7-12 जनवरी 1978 – सिडनी – भारत पारी और 2 रन से जीता

4. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 2-4 जनवरी 1981 – सिडनी – ऑस्ट्रेलिया पारी और 4 रन से जीता

5. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 2-6 जनवरी 1986 – सिडनी – मैच ड्रॉ

6. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 2-6 जनवरी 1992 – सिडनी – मैच ड्रॉ

7. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 2-4 जनवरी 2000 – सिडनी – ऑस्ट्रेलिया पारी और 141 रनों से जीता

8. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 2-6 जनवरी 2004 – सिडनी – मैच ड्रॉ

9. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 2-6 जनवरी 2008 – सिडनी – ऑस्ट्रेलिया 122 रनों से जीता

10. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 3-6 जनवरी 2012 – सिडनी – ऑस्ट्रेलिया पारी और 68 रनों से जीता

11. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 6-10 जनवरी 2015 – सिडनी – मैच ड्रॉ

12. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 3-7 जनवरी 2019 – सिडनी – मैच ड्रॉ

13. भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया – 7-11 जनवरी 2021 – सिडनी – मैच ड्रॉ

 

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0