Alwar: अमीर बनने की चाहत में 11 साल के मासूम की दी बलि, नाक-कान कटा मिला शव

राजस्थान के अलवर जिले में अंधविश्वास के चलते 11 साल के मासूम की बलि देने का मामला सामने आया है. रविवार को बच्चे का शव रोंगटे खड़े कर देने की हाल

खत्म हुई राहुल की WFH पॉलिटिक्स, लॉकडाउन खुलते ही नापने लगे सड़क..
सुप्रीम कोर्ट ने दिया फैसला, CBI करेगी सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच
नोएडा: हनी ट्रैप में फंसाकर डीआरडीओ के साइंटिस्ट का अपहरण, 2 लड़कियों समेत तीन अरेस्ट
अमीर बनने की लालसा में 11 साल के मासूम की बलि चढ़ाई.

राजस्थान के अलवर जिले में अंधविश्वास के चलते 11 साल के मासूम की बलि देने का मामला सामने आया है. रविवार को बच्चे का शव रोंगटे खड़े कर देने की हालत में खेत में पड़ा हुआ मिला. बच्चे के कान, नाक और नाखून कटे हुए थे. बच्चे की आंखों में काजल लगा हुआ था और उसके शरीर पर जगह जगह कटा हुआ था. बच्चे के पिता ने गांव के ही ढोंगी बाबा और अपने ही परिवार के कुछ लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया है. फिलहाल आरोपी फरार है. पुलिस उसका पता लगाने में जुटी हुई है.  (इनपुट-देव अंकुर/ संतोष शर्मा)

अमीर बनने की लालसा में 11 साल के मासूम की बलि चढ़ाई.

ये मामला अलवर जिले के मालाखेड़ा थाना क्षेत्र के अंतर्गत नावली गांव का है. जानकारी के मुताबिक, 11 साल के बच्चे का नाम निर्मल कुमार है जिसका शव रविवार को गांव के पास एक खेत में पड़ा हुआ मिला. जहां पर कई लोगों के द्वारा उसकी हत्या करने के सबूत मिले हैं. यही नहीं जिस जगह शव मिला है वहां सरसों के पेड़ टूटे हुए मिले हैं और वहीं पास में नाक, कान, कटे हुए मिले हैं. शुक्रवार शाम को मृतक बच्चे के पिता ने अकबरपुर चौकी में बच्चे की लापता होने की रिपोर्ट दी थी. पिता का आरोप है कि शिकायत के बाद भी पुलिस ने उनके बच्चे को तलाशने की कोशिश नहीं की.

अमीर बनने की लालसा में 11 साल के मासूम की बलि चढ़ाई.

घटना की सूचना के बाद मालाखेड़ा थाना पुलिस सहित अन्य अधिकारी पहुंचे. इसके बाद ग्रामीणों की भीड़ भी जमा हो गई. तब एसपी तेजस्वनी गौतम मौके पर पहुंचीं और एफएसएल की टीम और डॉग स्क्वायड को बुलाकर मामले की जांच की गई. मृतक बच्चे के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल भिजवाया गया है.

अमीर बनने की लालसा में 11 साल के मासूम की बलि चढ़ाई.

मृतक के पिता रघुवीर सिंह का आरोप है कि परिवार के कुछ लोगों ने पैसे पाने और अमीर बनने के लालच में मेरे बच्चे का अपहरण किया. जिसमें  नंदा, बद्री, सोमेतो, बालासाहाय, जीतू और कल्लू सहित अन्य लोगों शामिल हैं. उन्होंने मेरे बच्चे का शुक्रवार सुबह 11 बजे अपहरण कर लिया था. उसके बाद खेत में ले जाकर उसकी बलि दे दी. इसके लिए उन लोगों ने पंडित को बुलाकर उसके बेटे की बलि चढ़ाई है.

पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है.

एसपी तेजस्वनी गौतम का कहना है कि नावली गांव के खेत में एक बच्चे का शव मिला है जिसकी हत्या की गई है. पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है. जल्दी आरोपीयों को गिरफ्तार किया जाएगा. मृतक के पिता ने नामजद लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दी है. मामले का जल्द खुलासा किया जायेगा.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0