RIL बना दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा ब्रांड, अब Apple के ताज पर भी खतरा

उद्योगपति मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज ‘फ्यूचरब्रांड सूचकांक 2020’ में दूसरे स्थान पर है.रिलायंस इंडस्ट्रीज से आगे एप

अब छोले-कुल्चे जैसे स्ट्रीट फूड Swiggy पहुंचाएगा आपके घर, शहरी विकास मंत्रालय से हुआ करार
चीन पर एक और चोट! एयर कंडीशनर के आयात पर सरकार ने लगाई रोक
टैक्सपेयर्स के लिए फेसलेस स्क्रूटिनी, फेसलेस अपील और टैक्सपेयर चार्टर का क्या है मतलब, यहां समझिए

उद्योगपति मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज ‘फ्यूचरब्रांड सूचकांक 2020’ में दूसरे स्थान पर है.

RIL share price jumps 8% as firm likely to buy Netmeds

रिलायंस इंडस्ट्रीज से आगे एप्पल
  • RIL का मार्केट कैप 14 लाख करोड़ के पार है
  • यही नहीं, रिलायंस इंडस्ट्रीज कर्जमुक्त भी है

उद्योगपति मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज ने एक और सफलता हासिल की है. दरअसल, रिलायंस इंडस्ट्रीज को ‘फ्यूचरब्रांड सूचकांक 2020’ में दूसरा स्थान मिला है. रिलायंस इंडस्ट्रीज ने ये सफलता ऐसे समय में हासिल की है जब कंपनी का मार्केट कैप 14 लाख करोड़ के पार पहुंच गया है और कंपनी कर्ज मुक्त हो चुकी है. वहीं, रिलायंस का शेयर भाव भी 2200 रुपये के स्तर पर है.

आपको यहां बता दें कि यह सूचकांक दुनिया के बड़े ब्रांड्स के बारे में बताता है. कहने का मतलब ये है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा ब्रांड बन गया है. इस सूचकांक में रिलायंस से आगे अब सिर्फ आईफोन बनाने वाली अमेरिकी कंपनी एप्पल है. रिलायंस इंडस्ट्रीज के प्लेटफॉर्म पर निवेश की रफ्तार देखकर अनुमान लगाया जा रहा है कि आने वाले दिनों में यह दुनिया का सबसे बड़ा ब्रांड बन जाएगा.

रिलायंस के बारे में क्या कहा गया

फ्यूचरब्रांड ने 2020 की सूची को जारी करते हुए कहा कि सबसे लंबी छलांग दूसरे स्थान के लिए लगायी गई है. रिलायंस इंडस्ट्री हर पैमाने पर खरी उतरी है. यह भारत की सबसे अधिक लाभ कमाने वाली कंपनियों में से एक है. कंपनी नैतिक रूप से काम करती है. लोगों का कंपनी के साथ एक मजबूत भावनात्मक रिश्ता है.

मुकेश अंबानी को जाता है श्रेय

फ्यूचरब्रांड की रिपोर्ट में कहा गया है कि रिलायंस की सफलता का श्रेय मुकेश अंबानी को दिया जाना चाहिए. उन्होंने कंपनी को नयी पहचान दी है. रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘ आज कंपनी ऊर्जा, पेट्रोरसायन, कपड़ा, प्राकृतिक संसाधन, खुदरा और दूरसंचार क्षेत्र में काम करती है. गूगल और फेसबुक ने उसमें हिस्सेदारी खरीदी है.

कौन—कौन से ब्रांड टॉप 10 में

इस सूची में एप्पल और रिलायंस के बाद सैमसंग तीसरे स्थान, एनवीडिया चौथे, मोताई पांचवे, नाइकी छठे, माइक्रोसॉफ्ट सातवें, एएसएमएल आठवें, पेपाल नवें और नेटफ्लिक्स दसवें स्थान पर है. आपको बता दें कि फ्यूचरब्रांड पिछले छह साल से यह सूचकांक पेश कर रही है.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0